Love जिहाद का फिर उछाला मुद्दा : इस्लाम में कभी थी ना है, सतीप्रथा, देवदासीप्रथा, अस्पृश्यता

इस्लाम में कभी भी नहीं थी सतीप्रथा, देवदासीप्रथा, अस्पृश्यता और ना आज है. इस्लाम ही है जिसने ज़िंदा गाड दिए जाने वाली लडकियों को जिंदगी जीने का अधिकार दिया. इस्लाम ही है जिसने माँ के कदमो में जन्नत रख दी. (माँ की सेवा नहीं करने वाला नाकामियाब) इसलाम ही है जिसने सबसे पहले पिता की संपत्ति में महिलाओं को अधिकार दिया. इस्लाम ही है जिसने महिलाओं को व्यवसाय करने की आजादी दी. इस्लाम ही है जिसने शराबी, आवारा, घटिया जैसे गुण वाले पति को खुला देकर दुसरे पति के साथ जिंदगी जीने का अधिकार दिया. इस्लाम ही है जिसने महिलाओं को अधिकार दिया के वह अपने होने वाले पति से अपनी जिंदगीभर की सुरक्षितता के लिए कितना भी धन मांग सकती है, सोने (गोल्ड) का पहाड़ भी मांग सकती है या एक रुपया भी. इससे मना करने पर उस पति से विवाह अनिवार्य नहीं होता. विवाह में महिलाओं को अपनी मर्जी का मालिक बनाया. इस्लाम ही है जिसने महिलाओं को शिक्षा का अधिकार दिया. इस्लाम ने महिलाओ को शुद्र, अतिशुद्र या अछूत घोषित नहीं किया, सम्पूर्ण अधिकार दिया. निचे दी हुई तस्वीर में आज भी छुआछूत ज़िंदा है. लव जिहाद का फर्जी मुद्दा बनाकर मुस्लिम लडको और गैरमुस्लिम लडकियों को बदनाम करने वालो ने सबसे पहले यह खतरनाक मुद्दे पर ध्यान देना चाहिए और महिलाओं को अस्पृश्यता से आजादी दिलानी चाहिए.
-संपादक
संघियों द्वारा फिरसे लव जिहाद का फर्जी मुद्दा उठाने पर सोशल मीडिया पर आ रही प्रतिक्रया



कथित लव जिहाद का एजैंडा एक बार फिर दिखा
मेरठ के माॅरल में एक हिंदू लड़की और एक मुस्लिम लड़के को घर से निकाल कर विश्व हिंदु परिषद ने उत्पीड़न किया लड़की से पूछा गया धर्मांनरण तो नही किया पुलिस आई दोनो को घर से निकाल कर थाने ले गई और लड़के पर यौनशोषण का मुकदमा दर्ज किया

लड़की-लड़का बालिग हो तो देश में ऐसा कोई कानून नही बना कि लड़की-लड़का को थाने में रखे जबकि लड़की वालों के तरफ से कोई शिकायत नही आई पुलिस को कोई अधिकार नही कि बिना वारंट के किसी के घर में रेड डाले बालिग युवक-युवती को थाने ले आए



पुलिस का कहना है कि हम दबाव में हैं कि कहीं हिंसा ना हो जाए वाह जी वाह यानी देश में भगवा गमछा वालों का ही राज है और पुलिस उनकी गुलाम पुलिस का काम होता है हालात को कंट्रोल करना और हिंसा फैलाने वालों पर कड़ी कार्यवाही

लेकिन आज देश में पुलिस हुकूमत के हिसाब से काम करती है अब कानून नाम की कोई चीज नही गुंडों का राज है जिस पर चाहे जुल्म करे जिसे चाहे मार दे कानून भगवा गमछे वालों के कदमों में अब इस देश में मुसलमान होना गुनाह हो गया अपनी रक्षा आप करो


Gel- V Corp