बम धमाको से दहला आसाम, देश मना रहा था गणतंत्र दिवस

फाइल फोटो
गणतंत्र दिवस की सुबह असम में छह धमाके हुए हैं। कम तीव्रता वाले इन धमाकों में किसी के घायल होने की खबर नहीं है।
गणतंत्र दिवस की सुबह असम में छह धमाके हुए हैं। कम तीव्रता वाले इन धमाकों में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। ये धमाके असम और नागालैंड की सीमा पर हुए हैं। असम के डीजीपी मुकेश सहाय ने बताया कि कुछ छह धमाके हुए हैं। हालांकि, किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि ये सभी धमाके असम के ऊपरी हिस्से में हुए हैं।

इस विस्फोट में किसी भी प्रकार की कोई क्षति नहीं हुई है। गणतंत्र दिवस के दिन सुबह ऊपरी असम और नगालैंड सीमा पर करीब आधा दर्जन धमाकों से पूरा असम दहल गया है। इन धमाकों के पीछे उल्फा उग्रवादियों के हाथ होने की आशंका है। ऊपरी असम के चरायदेवो में दो जगहों पर और पानिजान में एक पेट्रोल पंप पर धमाका हुआ है। उल्फा ने बुधवार को चेतावनी दी थी कि वह गणतंत्र दिवस के दिन राज्य में धमाके करेगा।


डिब्रूगढ़ के जालाननगर टी गार्डेन में भी एक धमाका हुआ है। बताया जाता है कि असम-नगालैंड सीमा पर रात भर गोलीबारी की आवाज सुनी गई है। इसके अलावा दो बम धमाके नाजिरा इलाके की बिहुबोर में हुए हैं। ये सभी धमाके कम तीव्रता के थे, इसलिए इनमें कोई हताहत नहीं हुआ है। असम में दो स्थानों पर बम धमाके हुए हैं। गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस पर आतंकी हमलों के मद्देनजर पूरे देश में सुरक्षा व्यवस्था काफी चुस्त है। खुफिया एजेंसियों ने पहले ही गणतंत्र दिवस के दिन आतंकी हमलों की आशंका जताई थी।(पत्रिका से)