AK-47 ले कर जेल को उड़ाने आ रहा हूं

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में फोन पर जेल उड़ाने की धमकी देने का मामला सामने आया है। सदर कोतवाली में सोमवार को अज्ञात शख्स के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। धमकी देने वाले शख्स कहा था कि वह एके 47 लेकर आएगा। पुलिस ने तहकीकात शुरू कर दी है।

सदर कोतवाल श्रीकांत राय ने मामले की विवेचना की जिम्मेदारी एसआई जितेंद्र कुमार को दी है। पुलिस ने मामले की जांच में जुट गई है। वही सर्विलांस टीम भी मोबाइल नंबर को ट्रेस करने में लग गई है। पुलिस की अब तक की छानबीन में मोबाइल नंबर की लोकेशन गोरखपुर के पीपीगंज और कैम्पियरगंज के आस-पास मिली है। 

पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लिया है। शनिवार की देर रात में धमकी देने वाले शख्स ने जेलर आरके सिंह से कहा था कि वह एके 47 लेकर आ रहा है और जेल को भी उड़ा देगा। इस पर जेलर आरके सिंह ने इसकी सूचना तत्काल एसपी प्रमोद कुमार को दी।



पुलिस ने जेल के आसपास सुरक्षा बढ़ाई 
सूत्र बताते हैं कि जेल गार्ड राणा यादव को गोली मारने वाली घटना का पर्दाफाश होने के दूसरे दिन 21 नवंबर की रात में जेलर आरके सिंह ने पश्चिम से आए कुछ बदमाशों पर सख्ती की थी। उस दौरान उनमें से कुछ बदमाशों ने उन्हें धमकी दी थी। जेलर ने इस बात को गंभीरता से नहीं लिया था। बताया जा रहा है इन्ही बदमाशों का एक साथी बनारस जेल से कुछ दिन पहले रिहा हुआ है।

महराजगंज। एसपी प्रमोद कुमार ने जिला जेल की सुरक्षा को बढ़ाने का निर्देश दिया है। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों गोली कांड को देखते हुए एक प्लाटून पीएससी तैनात कर दी गई है। जब से जेलर आरके सिंह को मोबाइल फोन पर धमकी मिलने की सूचना मिली है, तब से जिला जेल के गेट पर सदर कोतवाली से तीन कांस्टेबल तथा एक प्लाटून और पीएससी की तैनाती की गई है। इसके अलावा आने-जाने वाले लोगों की जांच की जा रही है। (अमरउजाला से साभार)