पुलिस हिरासत में मुस्लिम युवक की पीट-पीटकर उसकी हत्या की गई- परिवार का आरोप

कोलकाता: कोलकाता में चोरी के इल्जाम में गिरफ्तार एक युवक की शुक्रवार को मौत हो गई। युवक के परिजनों का आरोप है कि पुलिस हिरासत में उसकी पीट-पीट कर हत्या की गई।

20 वर्षीय फरदीन खान को इकबाल पुर के उनके घर से 10 दिन पहले कथित तौर पर मोबाइल चोरी के इल्जाम में गिरफ्तार किया गया था। फरदीन को दो बार हिरासत में लिया गया। दस दिनों तक उन्हें प्रेसीडेंसी जेल में रखा गया और एक दिन कोलकाता के लाल बाजार स्थित पुलिस हेडक्वाटर में।



विगत 17 नवंबर को गंभीर अवस्था में फरदीन को एसएसकेएम अस्पताल में भरती कराया गया था। अस्पताल अधिकारियों के अनुसार शुक्रवार की रात को उनके सभी अंग काम करने बंद कर दिए।
फरदीन की मां इम्तियाज बेगम ने बताया कि चार दिन पहले जब हम अपने बेटे से प्रेसीडेंसी जेल में मिले थे, तब वह बिल्कुल ठीक था। केवल चार दिनों में ऐसा क्या हो गया कि उसकी मौत हो गई। हमें लगता है कि उसकी मौत इसलिए हुई है, क्योंकि उसे लाल बाजार पुलिस हिरासत में बुरी तरह पीटा गया। फरदीन के परिवार ने यह दावा भी किया कि उसके शरीर पर पिटाई के गहरे निशान थे।



हालांकि पुलिस ने इन आरोपों से इंकार किया है। लालबाजार के एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि फरदीन नशे का आदी था। पुलिस हिरासत में उसे इससे संबंधित परेशानी हो रही थी। संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) विशाल गर्ग ने कहा कि हम इस मामले की जांच करेंगे।(हिंदी सियासत से साभार)