महापुरुष महिषासुर पर अभद्र टिपण्णी, बीजेपी नेता को कोर्ट ने भेजा जेल

राजनांदगांव। महिषासुर पर अभद्र टिप्पणी करने के मामले में मानपुर पुलिस ने अब जाकर कार्रवाई की. इस मामले में 5 लोगों पर धार्मिक भावनाएं भड़काने का अपराध दर्ज किया गया है. सभी आरोपी भाजपा के नेता हैं और संगठन में जिम्मेदार पदों पर काबिज भी हैं. इनमें से एक सतीश दुबे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बाकी आरोपी फरार बताए जा रहे हैं.

बताया गया मामला अप्रैल 2016 का है. मानपुर के बस स्टैंड के मैदान में एक कार्यक्रम के दौरान कुछ लोगों ने आदिवासी समाज में पूजे जाने वाले देवी-देवताओं को लेकर आपत्तिजनक भाषण दिया था. इसकी शिकायत आदिवासी समाज की ओर से पुलिस में की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. आदिवासियों ने करीब दो माह पहले वहां जोरदार प्रदर्शन भी किया था. इसके बाद भी कार्रवाई नहीं होने पर समाज ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया. परिवाद के आधार पर कोर्ट ने पुलिस को मामले में कार्रवाई के लिए निर्देशित किया.

पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर जिन पांच लोगों को आरोपी बनाया हैं उनमें सतीश दुबे मुख्य आरोपी है. वह भाजपा का वरिष्ठ नेता बताया जा रहा है. इसके अलावा हाल ही में भारतीय जनता युवा मोर्चा के मंत्री बनाए ए राजू टांडिया, मंडल उपाध्यक्ष ओम चांडक, युवा मोर्चा के मंडल अध्यक्ष प्रकाश मिश्रा और भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष मदन साहू शामिल है. इनमें से राजू के खिलाफ कुछ माह पहले रायपुर में धोखाधड़ी का भी मामला दर्ज हुआ था. कोर्ट का आदेश होते ही पुलिस ने सभी पर एफआईआर कर दी और तत्काल मुख्य आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया. कोर्ट ने उसे जेल भेजने का आदेश भी दे दिया है. (डाल्ट दस्तक से साभार)