अगर अब भी ना जागो तो..........!




नई दिल्ली। जेएनयू के लापता छात्र नजीब अहमद की बरामदगी के लिए विश्वविद्यालय के छात्र लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। 15 अक्टूबर से लापता छात्र का अभी तक पता नहीं चल पाया है। नजीब की बरामदगी के लिए पुलिस हैडक्वार्टर पर प्रदर्शन करने जा रहे छात्रों को पुलिस ने पहले ही रोक दिया गया। छात्रों ने यहां पुलिस प्रशासन के विरोध में नारेबाजी की। 



27 साल का नजीब एमएससी बायोटेक्नोलॉजी का छात्र है। वह यूपी के बदायूं का रहने वाला है। जेएनयू छात्र संगठन एबीवीपी पर नजीब को गायब करवाने और जेएनयू प्रशासन पर मामले में लापरवाही बरतने का आरोप लगा रहा है। नजबी की मां और बहन भी इस प्रदर्शन में शामिल हुईं। 



नजीब अहमद को तलाशने वाले के लिए एक लाख रुपये का इनाम रखा गया है। पहले यह राशि 50 हजार रुपये थी। दिल्ली पुलिस ने इसकी घोषणा की है। नजीब के पोस्टर बस अड्डों, रेलवे स्टेशनों, मॉल आदि पर लगाए गए हैं। लेकिन अभी तक उसका कोई पता नहीं चल पाया है।