सोशल डायरी इफेक्ट- किनवट में शराब के अड्डे पर और भोकर में जुआ के अड्डे पर रेड, 3 गिरफ्तार



किनवट: किराना दूकान से देशी विदेशी शराब का जखीरा जब्त, पुलिस की रेड एक गिरफ्तार
अफसर अहेमद
किनवट, आपने गैरकानूनी तरीके से शराब बेचने के कई फंडे देखे या सुने होंगे लेकिन किनवट शहर में एक अजीब फंडा अपनाया गया है. व्यंकटेश श्रीरामवार यह व्यक्ति अपने राशन दूकान में ही गैरकानुनी देशी और विदेशी शराब का धंदा बेबाकी से करते थे. कई दिनों से गैरकानूनी शराब बेचने वाले व्यंकटेश पुलिस की नजरो से बचने में कामयाब रहा लेकिन शायद इसको यह पता नहीं था की कानून के हाथ बहुत लम्बे होते है.

गैरकानूनी शराब बेचने की खबर जैसे ही दैनिक सोशल डायरी के संपादन विभाग को मिली तात्काल संपादन विभाग की ओर से स्टिंग करने के लिए अफसर अहेमद को किनवट रवाना किया गया. उन्होंने शराब बिक्री करने वाली किराना दूकान पर जाकर स्टिंग कर स्थानिक पुलिस निरीक्षक अरुण जग्ताब को इस बात की जानकारी दी. जैसे ही अपने इलाके में गैरकानूनी देशी और विदेशी शराब बिक्री होने की खबर सुनकर तात्काल कारवाई के लिए तैयार हुए. और अपनी टीम को लेकर कुछ ही देर में मौके पर पहुंचकर व्यंकटेश की दूकान पर रेड कर हजारो रुपयों की अवैध शराब जब्त की. पीआई जगताप के नेतृत्व में पुलिस उपनिरीक्षक अन्नारव वडारे, पुलिस कांस्टेबल बालाजी पारधे और महिला पुलिस कांस्टेबल शिवनंदा कळने इन्होने कारवाई को अंजाम दिया. पीएसआई वडारे इनकी शिकायत पर आरोपी व्यंकटेश पर मामला दर्ज करने की प्रक्रिया देर रात तक शुरू थी. गैरकानूनी शराब के अड्डे पर रेड कर बिक्री पर रोक लगाने के कारण इलाके की महिलाओं ने पुलिस निरीक्षक जगताप और उनकी टीम को धन्यवाद देते हुए सराहना की. यह मामला दी. 25 अक्तूबर शाम का है.



भोकर: कल्याण मुंबई मटका अड्डे पर रेड 2 मजदुर गिरफ्तार, मुख्य माफिया पर कोई कारवाई नहीं
एजास कुरैशी,
(विशेष, संवाददाता) जिले के कई शहरों में गैरकानूनी तौर पर चलाये जाने वालो की संख्या दिनबदिन बढती ही जा रही है. जिसमे क्लब, जुआ, कल्याण मुंबई मटका जैसे अनेक गैरकानूनी व्यवसाय है. सोमवार दि. 23 को भोकर शहर के मटका अड्डे पर पुलिस ने रेड कर दो मजदूरो को गिरफ्तार किया है. दि. 22 के अंक में दैनिक सोशल डायरी ने खबर छापी थी इस खबर से जागा प्रशासन और लोगो को दिखाने के लिए शायद एक बुकि पर रेड कर दो मजदूरो को गिरफ्तार किया गया है. बताया जा रहा है की, गिरफ्तार व्यक्ति तुकाराम और गिरमाजी यह मजदूरी से बुकि चलाते है. इसका मतलब साफ़ है मटका माफिया अभीतक सुरक्षित है जो लाखो रुपयों की उलाढाल करते है उनपर कारवाई करने की मांग बुद्धिजीव वर्ग द्वारा तेज हो रही है. छोटे-मोटे बुकियो पर रेड करने से मटका कायमस्वरूपी बंद नहीं हो सकता इसके लिए उपाय केवल एक ही है. जबतक मुख्य बुकि पर रेड नहीं की जाती. अब भोकर की जनता पुलिस की ओर इस आशा से देख रही है की, जल्द ही मुख्य बुकि पर रेड कर भोकर शहर को मटका मुक्त किया जाएगा.

भोकर शहर के पुलिस निरीक्षक इन्होने प्रफुल नगर स्थित मटका की पर रेड कर दो व्यक्तियों को गिरफ्तार की और 1620 रुपये नकद जब्त किये. पुलिस निरीक्षक चव्हान की इस कारवाई से निवासियों में एक आशा की किरण जागी है. और चारो तरफ उनकी प्रशंसा हो रही है.