महापुरुषों का अपमान कर देश का माहौल बिगाड़ने का प्रयत्न करने वाले पर FIR करने की मांग

एक सरफिरे सुजीत दीक्षित नामक व्यक्ति ने सोशल मीडिया पर भारत के संविधान तज्ञ और करोडो लोगो की दिल की धड़कन डॉक्टर बाबासाहब आंबेडकर जी को दिनांक 27 अगस्त को 125 जुटे मारने का ऐलान किया है. इसके साथ ही आरक्षण का विरोध करने को भी कहा है. July 21 at 1:07pm को उसने यह पोस्ट सोशल मीडिया फेसबुक पर की है. इस पोस्ट में कई कमेंट भी आये है कई लोगो ने उक्त व्यक्ति को ऐसा ना करने की सलाह दी और साथ में यह रास्ता गलत होने की समझ भी दी लेकिन सरफिरा व्यक्ति भारत में दंगा कराने के उद्देश्य से ही ऐसी बेतुकी बाते कर रहा है यह उसकी अकाद से पता चल रहा है. हालांकि कई सवर्ण आरक्षण विरोधियो ने भी उसको इस बात का अहेसास दिलाया की यह करना बिलकुल गलत है. इस पोस्ट के कारण सोशल मीडिया पर बवाल मचा हुआ है. हमारी नजर उस वक्त उक्त पोस्ट पर गयी जब शशि कुमार ने हमें इनबॉक्स कर इसकी सुचना दी. ऐसी पोस्ट को बढ़ावा ना देने की अपील की जाती है. और ऐसे लोगो के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की मांग भी सोशल मीडिया पर तेज हो रही है. सोशल डायरी ग्रुप ऐसे मानसिकता वाले लोगो की कड़ी निंदा करता है. महापुरुषों का अपमान सहा नहीं जाएगा चाहे वह महापुरुष किसी भी जाती धर्म से क्यों ना हो.



आईये हम आपको उस सरफिरे व्यक्ति की पोस्ट ज्यो की त्यों कॉपी कर जानकारी के लिए दे रहे है.





जातिगत आरक्षण के खिलाफ जन क्रॉति का आगाज
मै देश के उन करोडों जातिगत आरक्षण एवं sc atrocity act से पीडित सवर्णो एवं तमाम आरक्षण विरोधी संगठनों से अपील करता हूँ कि आगामी 27 अगस्त को भीमराव अंबेडकर ते पुतले या मूर्तियों को 125 जूते मारकर sc (prevention of atrocities) act तोडें एवं जनक्रॉंति का शंखनाद करें मैं खुद दिल्ली के रामलीला मैदान मैं भीमराव अंबेडकर के पुतले को 125 जूते मारकर sc act तोडूँगा जो लोग किसी कारणवश दिल्ली नहीं आ सकते वो अपने अपने गॉंव शहर कस्वों में ऐंसा करके अपनी गिरफ्तारियाँ दें और अंबेडकरवादियों एवं वोट बैंक की तुच्छ राजनीति करने वाले नेताओं को अपनी एकता एवं ताकत का एहसास कराएँ मैं एससी आयोग एवं अंबेडकर भक्त प्रधानमंत्री को चुनौती देता हूँ मेरे खिलाफ जिस एक्ट के तहत कार्यवाही करना चाहते हो कर कर लो मैं किसी एक्ट से डरने वाला नहीं हूँ मैं करोडों सवर्ण युवाओं का आह्वान करता हूँ कि सरकार इसके पहले कि इंटरनेट सेवा पर प्रतिबंध लगाए यह शंदेश हर आरक्षण विरोधी युवा तक पहुँचायें साथ ही मैं कहना चाहूँगा कि आपको भी डरने की जरूरत नहि क्योंकि हम अधर्म और अन्याय के खिलाफ लड रहे है यदि हमें सुप्रीम से न्याय नहीं मिला तो हम इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र संघ एवं विश्व मानव अधिकार आयोग तक ले जाएँगे मैंने जनक्राँति की तारीख 27 अगस्त इसलिए निर्धारित की है क्योंकि इसी दिन British government ने अपने वफादार कुत्ते भीमराव अंबेडकर को संविधान प्रारूप समिति का अध्यक्ष बनानें का प्रस्ताव संविधान सभा के समक्ष रखा जिसे मजबूरी में संविधान सभा को स्वीकार करना पडा और अंत में अंबेडकरवाद के खिलाफ हमारी यह लडाई अंतिम साँस तक जारी रहेगी जबतक कि देश से अंबेडकर और अंबेडकरवाद का सफाया नहीं हो जाता चाहे मेरे खून का एक एक कतरा क्यों न बह जाए अंबेडकरवाद के खात्मे तक जंग जारी रहेगी

Vashisht Bharat
Vashisht Bharat ये बेवकूफी मत करो
July 21 at 1:42pm
Veena Sushil Sharma
Veena Sushil Sharma Jai bhero andolan
1 · July 21 at 2:15pm
अभिषेक द्विवेदी
अभिषेक द्विवेदी ऐसा न करे भाई
July 21 at 2:22pm
Sitaram Sharma
Sitaram Sharma यह उचित नही है।लोगों को जगरुक करो । आरक्षण का विरोध करो।
आरक्षण समर्थक को वोट मत करो । चाहे आपका सगा भाई रिस्तेदार ही क्यों न हो।
1 · July 21 at 3:09pm
Yukt Bihari Onkar
Yukt Bihari Onkar सब तो आरक्षण समर्थक ही है
1 · July 21 at 3:12pm
Sujeet Dixit
Sujeet Dixit मैं मानता हूँ कि ये कदम सही नहीं है लेकिन लोकतांत्रिक तरीकों जैंसे जागरुकता, धरना एवं अनशन आदि के द्वारा आरक्षण कभी खत्म नहीं होगा बल्कि ये और मजबूत होगा
4 · July 21 at 4:40pm



अभिषेक द्विवेदी replied · 1 Reply
Sujeet Dixit
Sujeet Dixit आज गुजरात में दलित आन्दोलन के नाम पर सवर्णों के मासूम बच्चों को पीटा जा रहा है उनके घर व वाहन आग के हवाले किए जा रहे हैं इस पर न तो बिकाऊ मिडिया का ध्यान है और न ही कोई political tourist (नेता ) वहाँ उन पीडितों से मिलने गया अब इस तरह की राजनीति कब तक सहन करेंगे किसी को तो आगे आना ही होगा
5 · July 21 at 4:59p
Har Har Mahadev
Har Har Mahadev मुझे तो नोटा ही सही लगता है ।
1 · July 23 at 5:06pm
Harish Bhimjibhai
Harish Bhimjibhai Bevkuf instant kyun Desh me varg vigrah karvana chahta hay?
2 · August 10 at 11:50am
Harish Bhimjibhai
Harish Bhimjibhai Gujrat me Jo aandolan me ghar vahan jalaye Vo patidar aandolan tha dalit aandolan nahi.
2 · August 10 at 11:56am
Sanjay Kumar Sale kamine arkshan kya ha bhootni ke teri sankhya kitni ha jo too arkshan aur chillta ha bhoitni ke
4 · 11 hrs
Sanjay Kumar
Sanjay Kumar 13% General ko 51 % seete milti ha agar ye arakshan wale jo sant tarki se ha wo jag agye to kya hoga samaj le na man to jansankhya gadna de le aur old history pad le sab pata chal jaega
2 · 11 hrs
Bittu Jkhwala Gurdayal
Bittu Jkhwala Gurdayal अब वो दिन दूर नही जब तेरे जैसे कुत्ते के पिछवाड़े में हम अनगिनित गोलियां ठोक देंगे।आजा देल्ही मेरे साले देखता हु तू कोण से बाप की औलाद??
6 · 9 hrs
Rahul Makwana
Rahul Makwana gali galoch hane bhi ati he hamari pass vi takat k 100 jan aye 1 akela hu but hum bhim vadi he bhai aisa kyu kre hum jay bhim ji namoo buddhay
2 · 8 hrs · Edited
मैत्रेय ए. के.
मैत्रेय ए. के. भई ये मानसिक विकार से ग्रस्त जंतु है, ,जो ऐसा लिखा है, ,,साला अपनी ब्रामहणी बहन सविता को याद कर. .
भारत में अपने जीजा का अपमान नहीं किया जाता, ,गोस्सा पी जा! लगता है इसकी बहन को फिर किसी एससी वाले ने पेल दिया है! बेचारा!
वैसे कितने आदमी थे?
1 · 6 hrs