उद्धव मेंडक और मोदी चूरन बाबा - पोस्टर वार

मुंबई। महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना भले ही गठबंधन में सरकार चला रही हो, लेकिन दोनों पार्टियों के बीच तल्खी बढ़ती जा रही है। दोनों पार्टियां पोस्टर वार के जरिए एक-दूसरे पर जमकर कीचड़ उछाल रहे हैं। बीजेपी की तरफ से जारी पोस्टर में उद्धव ठाकरे को मेंढक दिखाया गया तो वहीं जवाब में शिवसेना ने भी पीएम मोदी को निशाना बनाते हुए उन्हें सांप, गद्दार और अहसान फरामोश बता दिया। हालांकि इन पोस्टरों की जिम्मेदारी दोनों पार्टियों में से किसी ने भी नहीं लिया है। 

उद्धव ठाकरे को बताया मेंढक
सोशल मीडिया पर “आई सपोर्ट नमो” नाम के पोस्टर में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को निशाना बनाया गया है। हालांकि इन पोस्टरों में शिवसेना का नाम और चुनाव चिह्न इस्तेमाल नहीं किया गया है। उद्ध‌व पर ताना कसते हुए पोस्टर में लिखा गया है कि देश पिताश्री और मातोश्री के आशिर्वाद से नहीं चलता उसके लिए मेहनत करनी पड़ती है। वहीं दूसरे पोस्टर में उद्धव ठाकरे को बरसाती मेंढक के रूप में चित्रित किया गया है। एक अन्य पोस्टर में बीजेपी को सूर्य और शिवसेना को जुगनू बताया गया है। 

शिवसेना ने मोदी को बताया “चूरन बाबा”
बीजेपी समर्थकों के पोस्टरों के जवाब में शिवसेना समर्थकों ने भी सोशल साइट पर जवाबी हमले शुरु कर दिए। पीएम नरेंद्र मोदी की खिल्ली उड़ाते हुए शिवसेना ने ‘मोदी को चूरन बाबा‘ बताया। दूसरे पोस्टर में मोदी के कंधे पर भगवा दुप्पटे को सांप की तरह दिखाया गया है और मोदी को गद्दार बताते हुए सवाल उठाया गया कि क्या मोदी शिवसेना का अहसान भूल गए। एक अन्य पोस्टर में मोदी को बालासाहेब ठाकरे से समक्ष नतमस्तक दिखाया गया है। एक पोस्टर में 1989 में शिवसेना को बीजेपी को सींचते दिखाता गया है तो दूसरे पोस्टर में 2019 में बीजोपी को उखाड़ फेंकने का चित्र दिखाया गया है। 
बीएमसी चुनाव के मद्देनजर पोस्टर वार
बीजेपी-शिवसेना के बीच इन पोस्टर वार को आगामी बीएमसी चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव अलग-अलग लड़ने वाली दोनों पार्टियों ने चुनाव बाद गठबंधन कर लिया था। हालांकि दोनों पार्टियों की तरफ से एक-दूसरे पर लगातार बयानबाजी जारी रही है।