दलित पुजारियों से कर्मकांड करवाकर हमारी रोजी-रोटी ना छीने -ब्राह्मण समाज

दलित पुजारियों से कर्मकांड करवाकर हमारी रोजी-रोटी ना छीने -ब्राह्मण समाज

ब्राह्मण समाज ने राज्यपाल के नाम सौंपा ज्ञापन 
ब्राम्हण समाज के लोग एसडीएम को ज्ञापन सौपते हुए। 
छतरपुर , ब्राह्मण समाज ने मंदिरों में दलित पुजारियों से कर्मकांड कराने के विरोध में राज्यपाल के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। सीएम द्वारा दलित पुजारियों के पक्ष में दिए गए बयान का विरोध किया। 

राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ के जिला प्रभारी रणवीर पटैरिया के नेतृत्व में शनिवार को ब्राह्मण समाज के पदाधिकारियों ने ज्ञापन सौंपा। महासंघ ने राज्यपाल के नाम एसडीएम डीपी द्विवेदी को दिए ज्ञापन में बताया कि सीएम द्वारा दिए गए बयान का ब्राह्मण् समाज विरोध करती है। ज्ञापन में यह भी बताया कि ब्राम्हण समाज के लोग पूर्व से योग्यता रखने के बावजूद आरक्षण के कारण योग्य रोजगार से वंचित रह जाते हैं। दलितों द्वारा मंदिरों में पूजा करने के कारण ब्राह्मणों से उनकी रोजी-रोटी छिन जाएगी। 



ब्राहम्ण महासंघ के पदाधिकारियों ने बताया कि ब्राह्मण समाज की अजीविका ही अनुष्ठान और पूजा पर टिकी हुई है। सीएम के बयान के आधार पर दलित पुजारी ब्राह्मणों से रोजी-रोटी छीन सकते हैं। सीएम का बयान का विरोध करते हुए दिए गए बयान को वापिस लेने की मांग की है। प्रदेश के अन्य जिलों की भांति छतरपुर में भी ब्राह्मण समाज के द्वारा सीएम के बयान का विरोध करते हुए राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन सौंपने के दौरान अरूण पाठक, सत्यम शर्मा, विपिन चतुर्वेदी, अंकुर शुक्ला, तनुज गंगेले, विपिन दुबे, राहुल गौतम, आदित्य पटैरिया, टीनू पाठक, सत्येंद्र दुबे सहित ब्राह्मण समाज के अनेक लोग मौजूद रहे। 
(भास्कर से)