लखनऊ हाईकोर्ट ने दिया सीएम योगी के "Anti Romeo Squad" को तगड़ा झटका.......

प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनने के बाद सीएम आदित्यनाथ योगी ने एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन किया. इस एंटी रोमियो स्क्वायड के तहत ये भरोशा दिलाने की कोसिस किया गया कि अब महिलाओं के साथ कोई छेड़-छाड़ नही होगा. आपको बता दे कि प्रदेश में छेड़-छाड़ की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए. बीजेपी ने इसे चुनावी हथकंडा बना लिया, और लोगों से वादा किया की सरकार बनने के बाद इस तरह एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन किया जायेगा. जिससे महिलाओं के साथ कोई अपराध नही होगा.

लोगों ने बीजेपी की इस चुनावी वादे को काफी सराहा भी नतीजतन प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनी. अब ऐसे में इस एंटी रोमियो स्क्वायड को तगड़ा झटका लगा है. लखनऊ हाई कोर्ट की बेंच ने सख्त आदेश देते हुए डीजीपी और राज्य सरकार से कहा है कि एंटी रोमियो स्क्वायड के तहत किसी की नैतिकता और मूल अधिकारों की हनन न हो.



बिना किसी के शिकायत के किसी पर कोई कार्रवाई नही की जाय. एंटी रोमियो स्क्वायड मामले में लखनऊ हाईकोर्ट की बेंच ने डीजीपी और राज्यसरकार को गाइड लाइन जारी किया है. अब उन लोगों के लिए राहत भरी खबर है. जिन लोगों को पुलिस बिना मतलब के परेशान कर रही थी. हाईकोर्ट के अनुसार अब आप स्वतंत्र रूप से घूम सकते है. आपके खिलाफ शिकायत होने पर ही कार्रवाई की जायेगी.