अमेरिका की मस्जिद में लगाई गयी आग

वाशिंगटन। यहाँ बेल्वेब क्षेत्र में शनिवार रात एक मस्जिद को आग लगा दी गई। पुलिस का कहना है कि मस्जिद में आग जानबूझकर लगाई गई है। घटना में शामिल होने के शक में एक 37 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है।
इस घटना में इस्लामिक सेंटर ऑफ ईस्ट का आधे से अधिक हिस्सा नष्ट हो गया है। इस केंद्र को बेल्वेव मस्जिद भी कहा जाता है। जिस समय आग लगाई गई इस समय मस्जिद के अंदर कोई मौजूद नहीं था इसलिए इस घटना में किसी के नुक्सान होने की सूचना सामने नहीं आईं है। रिपोर्ट के अनुसार आग मस्जिद के पिछले हिस्से में लगी जहां आग बुझाने वालों ने 40 फीट की ऊंचाई तक लौ बुलंद होते हुए देखे। इस घटना के बाद प्रभावित मस्जिद को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है, जबकि एक स्थानीय सामुदायिक केंद्र को फिलहाल नमाज़ अदा करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

alibaba.com INT

सीएनएन ने बेल्वेव के पुलिस प्रमुख स्टीव माईलट के हवाले से खबर दी है कि इस बात की पुष्टि हो गई है कि यह विस्फोट का नहीं बल्कि आगजनी की घटना है। हालांकि अभी तक इस के कारणों का पता नहीं चला है। पुलिस प्रमुख ने गिरफ्तार व्यक्ति का नाम आइजैक वाइन विल्सन बताया है। उस पर पुलिस आगजनी के आरोप में अपराधिक मामला दर्ज करके आगे की जांच की जा रही हैं। उसकी जमानत याचिका भी खारिज कर दी गई है। रिपोर्ट के अनुसार पुलिस को यह संदिग्ध व्यक्ति मस्जिद के पीछे पड़ा मिला था।

Aliexpress INT

पुलिस प्रमुख के अनुसार वर्तमान में इस घटना को नफरत के नज़रिये से उठाया गया कदम नहीं माना जा सकता है। विभिन्न पहलुओं से जांच की जा रही हैं। इस संदिग्ध को एक बार पहले भी मस्जिद में अव्यवस्था फैलाने की वजह से हिरासत में लिया गया था।

इस बीच यहाँ कौंसिल बराए अमेरिकन इस्लामिक रिलेशंस ने लोगों से अपील की है कि वह खुद से कोई नतीजा न निकालें, अधिकारियों को जांच पूरी करने का दें।